भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली आज कितने बड़े बल्लेबाज हैं ये किसी को भी बताने की जरूरत नहीं है। हर कोई जानता है कि इस मौजूदा दौर में विराट कोहली का कद कहां से कहां पहुंच गया है। विराट कोहली आज एक सफलतम बल्लेबाज होने के साथ ही भारतीय टीम के एक सफलतम कप्तानों में भी शुमार हो गए हैं।

महेन्द्र सिंह धोनी नहीं चुनना चाहते थे विराट कोहली को

लेकिन एक समय ऐसा था जब पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने कप्तान रहते हुए विराट कोहली के टीम में चयन करने से इनकार कर दिया और धोनी विराट कोहली की जगह सुब्रमण्यम बद्रीनाथ को चाहते थे। साल 2008 में श्रीलंका के दौरे पर जहां चयनकर्ता विराट कोहली को ले जाना चाहते थे तो वहीं धोनी ने विराट कोहली को टीम में चुनने के लिए आनाकानी की।

तात्कालिन मुख्य चयनकर्ता दिलिप वेंगसरकर ने किया खुलासा

जी हां ये वास्तविकता है इसका खुलासा खुद उस समय के मुख्य चयनकर्ता दिलिप वेंगसरकर ने किया। दिलिप वेंगसरकर भारतीय जूनियर टीम को विश्वकप का खिताब जीताने वाले कप्तान विराट कोहली को टीम में लेना चाहते थे, लेकिन तात्कालिन कप्तान धोनी और कोच गैरी कर्स्टन ऐसा नहीं चाहते थे।

विराट कोहली को चुना था नेशनल इमर्जिंग प्लेयर टूर्नामेंट में

दिलिप वेंगसरकर ने इसको लेकर कहा कि

” मैं और मेरे साथी चयनकर्ता चार देशों की नेशनल इमर्जिंग प्लेयर ट्रॉफी में भारत ए की टीम के लिए अंडर-23 खिलाड़ियों के चयन का फैसला किया। इसी दौरान भारत ने अंडर-19 विश्वकप जीता था, जिसके कप्तान विराट कोहली थे।”

” मैं और मेरे साथी चयनकर्ता चार देशों की नेशनल इमर्जिंग प्लेयर ट्रॉफी में भारत ए की टीम के लिए अंडर-23 खिलाड़ियों के चयन का फैसला किया। इसी दौरान भारत ने अंडर-19 विश्वकप जीता था, जिसके कप्तान विराट कोहली थे।”

ऑस्ट्रेलिया में हुई टूर्नामेंट में विराट कोहली ने किया शानदार प्रदर्शन

मैंने उन्हें इस टूर्नामेंट के लिए चुन लिया और उन्हें देखने के लिए ब्रिस्बेन चला गया। उस समय उन्होंने ओपनिंग की थी और न्यूजीलैंड के खिलाफ 123 रन की पारी खेली उनकी टीम (न्यूजीलैंड) में कई सारे टेस्ट खिलाड़ी थे। मैंने उन्हें बल्लेबाजी करते देखा और सोचा इन्हें भारतीय टीम में चुना जाना चाहिए। मुझे लगा वो तैयार हैं।”

मैंने किया विराट को चुनने का फैसला, धोनी-गैरी ने कर दिया था इनकार- वेंगसरकर

“इसके बाद भारतीय टीम की अगली ही श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज थी। मैंने सोचा यही एक बेहतरीन मौका रहेगा। मेरे साथी चयनकर्ताओं ने मुझे बताया कि आप क्या कहते हैं, लेकिन कोच गैरी कर्स्टन और धोनी ने हमें बताया कि ‘ नहीं हमनें उन्हें खेलते नहीं देखा है’ चलो वहीं टीम लेकर चलते हैं। मैंने जोर देकर कहा कि हालांकि आपने उन्हें खेलते हुए नहीं देखा है । मैंने देखा है और हम उन्हें(विराट कोहली) को चुनते हैं।”

चौथे ही वनडे मैच में विराट ने जड़ा पचासा

इसके बाद आखिर विराट कोहली को उस वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम में चुना गया। पहले ही वनडे मैच में विराट कोहली 12 रन ही बना सके लेकिन इस सीरीज के चौथे वनडे मैच में उन्होंने शानदार पचासा जड़ भारत को श्रीलंका की जमीं पर यादगार जीत दिलाई।

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आए तो प्लीज इसे लाइक और शेयर करें।

outbrain

Comments Always Welcome